सीएम भूपेश बघेल ने की कोटा से छत्तीसगढ़ लौट रहे छात्रों की सुरक्षित यात्रा की कामना, क्वारंटाइन छात्रों को बैठाया गया बसों में

रायपुर: लॉक डाउन के दौरान कोटा में पढ़ने गए बच्चों को छत्तीसगढ़ वापस लाने गई बसों में छात्र‑छात्राएं बैठ चुके हैं और कुछ ही देर में बसें रवाना होंगी। इस बारे में सीएम भूपेश बघेल ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए बताया कि कोटा में हमारे 2247 बच्चे बसों में बैठ चुके हैं और वे जल्द ही छत्तीसगढ़ आएंगे। वहीं, दो बसों में क्वारंटाइन किए गए बच्चों को बैठाया गया है। सीएम भूपेश बघेल ने छात्र‑छात्राओं के सुरक्षित यात्रा की कामना की है।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री बघेल के निर्देश पर 24 अप्रैल की शाम राजधानी रायपुर से राजस्थान के कोटा में लाॅकडाउन के दौरान फंसे छात्र‑छात्राओं को लाने कुल 97 बसों को रवाना किया गया। इसमें 95 बस छात्रों को लाने के लिए तथा 2 बसों में डाॅक्टर और चिकित्सा दल के सदस्य गए हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा है कि छात्र‑छात्राओं के लिए भोजन सहित आवश्यक व्यवस्थाओं का भी ध्यान ने और छात्रों को रास्ते में किसी तरह की परेशानी न हो। राजस्थान के कोटा से छत्तीसगढ पहुंचने पर इन बच्चों को क्वारेंटाईन पर रखा जाएगा। उन्हें सीधे घर जाने की अनुमति नही होगी।

कोटा में हमारे 2247 बच्चे बसों में बैठ चुके हैं। हमारे बच्चे जल्द वापस आएंगे।

दो बसें जिनमें कि क्वेरिन्टीन किए गए बच्चों को लाया जा रहा है, कुछ दिन बाद पहुंचेंगीं।
मैं सबकी सुरक्षित यात्रा की कामना करता हूँ।

कोटा में अध्ययनरत छात्र‑छात्राओं को वापस छत्तीसगढ़ लाने के लिए बस्तर संभाग के लिए 06, सरगुजा संभाग के लिए 24, रायपुर संभाग के लिए 16, दुर्ग संभाग के लिए 14, बिलासपुर संभाग के लिए 28 बसों की व्यवस्था की गई है।

203 Views

You cannot copy content of this page