छत्तीसगढ़ के 15 थानों में अरुंधती राय के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत

रायपुर : छत्तीसगढ़ के 15 थानों में अरुंधती राय के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत,दरअसल,हाल में ही लेखिका और बुकर पुरस्कार विजेता अरुंधति रॉय ने एक जर्मन मीडिया संस्थान ‘डीडब्ल्यू न्यूज़’ को इंटरव्यू देते हुए अरुंधति राय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भारत सरकार के लिए अत्यंत अवांछनीय एवं निंदनीय टिप्पणियां की थी।

15 थानों में शिकायत दर्ज

छत्तीसगढ़ सिविल सोसायटी की लीगल टीम ने एडवोकेट भूपेंद्र जैन के नेतृत्व में अरुंधती राय के विरुद्ध आज दिनांक 26/4/2020 तक छत्तीसगढ़ के 15 थानों में शिकायत दर्ज कराई गई।

छत्तीसगढ़ सिविल सोसायटी के संयोजक डॉ. कूलदीप सोलंकी ने एक प्रेस नोट जारी कर बताया कि अरुंधति राय का यह बयान देश की एकता एवं भाईचारे पर सीधा आघात है और वह देश में दंगे भड़काना चाहती हैं। इसलिए छत्तीसगढ़ सिविल सोसायटी ने इसका संज्ञान लिया है तथा राष्ट्रहित में कार्य करने की प्रतिबद्धता के तहत हमने यह कानूनी कार्यवाही शुरू की है।
सोलंकी ने बताया कि कुछ थानों में एफ आई आर (FIR) की कारवाही भी शुरू हो चुकी है। इस कानूनी कार्रवाई के द्वारा हम यह संदेश देना चाहते हैं कि कोई भी व्यक्ति निजी स्वार्थ के लिए देश की छवि एवं अखंडता को नुकसान नहीं पहुंचा सकता।

जिन 15 थानों में शिकायत दर्ज हो चुकी है उनके नाम निम्नानुसार है
भिलाई

1. कोतवाली सेक्टर 6
2. छावनी थाना
3. सुपेला थाना
4. नेवई थाना
5. जामुल थाना

दुर्ग
6. सिटी कोतवाली
7. मोहन नगर थाना
8. पुलगांव थाना

रायपुर
9 सिविल लाइन थाना
10 सिटी कोतवाली थाना
11 आजाद चौक थाना
12 पुरानी बस्ती थाना
13 सरस्वती नगर थाना

बेमेतरा
14 नवागढ़ थाना

बिलासपुर
15 सिविल लाइन थाना

छत्तीसगढ़ सिविल सोसाइटी ने बताया कि इनके अलावा करीब 6 थानों में हमारा आवेदन लंबित है तथा उसकी पावती अभी नहीं मिल पाई है।

जानिए क्या कहा था जर्मन मीडिया से अरुंधति ने

जर्मन मीडिया संस्थान ‘डीडब्ल्यू न्यूज़’ को इंटरव्यू में अरुंधति राय ने प्रधानमंत्री मोदी की तुलना हिटलर से की थी तथा भारत सरकार पर यह आरोप लगाया है कि जिस प्रकार नाजियों ने यहूदियों के कत्लेआम के लिए टायफस का इस्तेमाल किया था उसी प्रकार पीएम मोदी भी कोरोनावायरस महामारी का मुस्लिमों को सफाया करने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं, तथा भारत सरकार कोरोना मरीजों के जो आंकड़े पेश कर रही है उससे वह बिल्कुल सहमत नहीं है। इसके बाद कहा कि कोरोना के कारण भारत की ‘पोल खुल गई’ है। उन्होंने दावा किया कि भारत न सिर्फ़ कोरोना वायरस, बल्कि घृणा और भूख से भी बेहाल है। उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण मुस्लिमों के ख़िलाफ़ घृणा में बढ़ोतरी हुई।

263 Views

You cannot copy content of this page