योगी आदित्यनाथ बोले- तबलीगी जमात ने जानबूझकर फैलाया कोरोना, हम कार्रवाई जरूर करेंगे

लखनऊ
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कोरोना को लेकर तबलीगी जमात(Tab­lighi Jamaat) पर जोरदार हमला बोला है। एक निजी चैनल को दिए गए टीवी इंटरव्यू (Yogi adityanath inter­view) में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जमातियों ने बीमारी को छिपाया। ये जानबूझकर किए गए कृत्य हैं, जोकि अक्षम्य अपराध हैं। अगर इन्होंने बीमारी ना छुपाई होती तो आज कम से कम कोरोना (Covid-19) केस होते। सीएम योगी ने यह भी कहा कि हम इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई जरूर करेंगे।
योगी ने प्रदेश में कोरोना फैलाने के लिए तबलीगी जमात के लोगों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा, ‘जमातियों ने बीमारी को छिपाया। छिपाकर आप बीमारी जगह-जगह फैलाएं, यह स्वीकार्य नहीं है। मुझे बोलते हुए कोई संकोच नहीं है कि तबलीगी के इस रवैये के कारण संक्रमण बहुत तेजी से फैला। आज हमारे पास लगभग 1600 ऐक्टिव केस हैं, इसमें 1000 से ज्यादा तबलीगी से जुड़े लोग हैं। यह स्थिति है।’

जानबूझकर जो कृत्य किए, वह अक्षम्य अपराध है’
सीएम योगी ने आगे कहा, ‘अगर ये समय रहते चेत जाते तो प्रशासन को बताना चाहिए था। ऐसा न करके उन्होंने छिपाया और बयानबाजी की और लोगों में अंधविश्वास फैला। देखते ही देखते बड़ी आबादी चपेट में आ गई। ये जानबूझकर जिस तरह के कृत्य किए, वह अक्षम्य अपराध है। यूपी में 3000 से ज्यादा जमातियों ने जगह-जगह जाकर ऐसा किया। हमारी पुलिस ने उन्हें पकड़कर क्वारंटीन किया। फिर ये अस्पताल में गए ‚वहां फैलाया और आज यह स्थिति है। अगर समय रहते इन्होंने सरकारी अपील पर ध्यान दिया होता तो यह हालत नहीं होती।’

हम इनके खिलाफ कार्रवाई जरूर करेंगे’
योगी आदित्यनाथ ने सख्त कार्रवाई के संकेत देते हुए कहा, ‘अगर उन्होंने बीमारी न छुपाई होती तो जरूर कोरोना केस कम होते। उन्होंने बीमारी छिपाकर अशोभनीय काम किया। हम जरूर उनके खिलाफ कार्रवाई करेंगे। सबसे पहले तो पॉजिटिव महसूस कर रहे व्यक्ति को खुद ही सामने आना चाहिए। निजामुद्दीन मरकज और तबलीगी जमात ने छिपाने का काम किया।’

जानबूझकर कोरोना फैलाने का आरोप लगाते हुए सीएम योगी ने कहा, ‘पूरे देश के अंदर जिन राज्यों में ज्यादा पैमाने पर मामले आए वहां इनकी भूमिका बहुत थी। विदेश से आए, टूरिस्ट वीजा लिया और घूमने लगे। सामान्य व्यक्ति मानता है कि टूरिस्ट है तो ठीक होगा लेकिन वे गांव‑गांव, घर-घर जाकर संक्रमण फैलाएं तो यह ठीक बात नहीं थी। यह तो केंद्र और राज्य सरकार का अलर्टनेस था कि स्थिति संभाल ली गई। इन लोगों ने तबाही मचा दी होती। अमेरिका, यूरोप से बदतर स्थिति होती।

पूरे देश में जो एकता दिख रही, यह बहुत बड़ी ताकत है’
तबलीगी जमात के चीफ मौलाना साद के फरार होने के सवाल पर सीएम योगी ने कहा, ‘दिल्ली पुलिस जांच कर रही है, नोटिस भेजा गया है। सवाल ये है कि आज हम सबके सामने सबसे पहली चुनौती कोरोना चेन को तोड़ना है। इसके लिए पूरे देश को मिलकर लड़ाई लड़ना है। मुझे लगता है कि पूरे देश के अंदर जो एकता दिख रही है, ये बहुत बड़ी ताकत है।’

जमात पर अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी की चुप्पी के बारे में सवाल पर योगी ने कहा, ‘अपराधी को जाति, मत और मजहब के साथ न जोड़ा जाए। अपराध किया है तो कानून की धाराओं के तहत कार्रवाई होनी चाहिए। जो लोग इस प्रकार के लोगों का बचाव कर रहे हैं, वे देश की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। अव्यवस्था फैलाने, अराजकता फैलान की छूट किसी को नहीं दी जा सकती।’

किसी को भी नहीं देंगे संक्रमण फैलाने की छूट’
कोरोना वॉरियर्स पर हमले के बारे में योगी ने कहा, ‘हम बिना भेदभाव के गरीब कल्याणकारी योजनाएं चला रहे हैं। हर व्यक्ति को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने का प्रयास हो रहा है। हमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना ही होगा। ऐसी स्थिति में भी अगर जानबूझकर मेडिकल टीम पर हमला होता है तो यह कानून के साथ खिलवाड़ है। हम किसी को भी संक्रमण फैलाने की छूट नहीं देंगे।’

62 Views

You cannot copy content of this page