कलेक्टर ने आश्रम‑छात्रावास अधीक्षकों की बैठक लेकर दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

कवर्धा, 09 मई 2020। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने पंडरिया विकासखण्ड के भ्रमण के दौरान कुकदूर में आश्रम‑छात्रावासों के अधीक्षकों की संयुक्त बैठक लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। जिले के पंडरिया अनुविभाग में आदिमजाति विकास विभाग द्वारा संचालित 30 सभी आश्रम‑छात्रावास भवनों को कोरोना वायरस के संक्रमण और उनके बचाव तथा उनके रोकथाम के उपायोे के लिए क्वारेन्टाईन सेन्टर सह राहत शिविर के रूप में उपयोग में लाया जाएगा। इन सभी क्वारेनटाईन सेन्टरों में देश के अलग-अलग राज्यों से लाॅकडाउन में फंसे श्रमिकों और अन्य नागरिकों की उनके सकुशल घर वापसी से पहले 14 अथवा 21 दिनांे के क्वारेटाईन में रखा जाएगा। दूसरे प्रांतों से आने वाले हर श्रमिकों और व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा।
कलेक्टर श्री शरण ने निर्देश देते हुए कहा कि क्वांरटाईन सेन्टर में श्रमिको के लिए भोजन व्यवस्था से जुड़े लोग ‚व्यवस्था प्रभारी और स्वास्थ्य अमलों के अधिकृति अधिकारी-कर्मचारियों को ही प्रवेश की अनुमति होगी। इसके अलावा श्रमिकों के रिस्तेदार व उनके पहचान सहित अन्य अनाधिकृत व्यक्तियों के प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। अगर कोई व्यक्ति अनाधिकृत रूप से बाहर और अन्दर आने जानेे के लिए परेशान करेंगे, तो इसकी सुचना तत्काल संबधित एसडीएम को देंगे।
कलेक्टर श्री शरण ने नोवेल कोरोना वायरस के नियंत्रण, रोकथाम और उनके संक्रमण के बचाव के उपायों के बारे में अधीक्षकों केा आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि सभी आश्रम‑छात्रावासों को विशेष साफ सफाई और सोशल डिस्टेंन्सिग के साथ श्रमिकों केा ठहराने की विशेष व्यवस्था कर लेेे। क्वारटाईन सेन्टर में शोसल डिस्टेसिंग का पालन अनिवार्य रूप से कराए। श्रमिको और व्यक्तियों के लिए भोजन परसते समय डिस्पोजन थाली का उपयोग करें और भोजन करने के बाद पत्तल अथवा ग्लास को किसी सुरक्षित स्थान में गड्ा कर सुर्रिक्षत ढंग से नष्ट करने की समुचित व्यवस्था भी करना होगा। कलेक्टर शरण ने अधीक्षकों को निर्देशित करते हुए कहा कि भोजन व्यवस्था के लिए अभी से चिन्हाकित व्यक्तियों की ड्यूटी लगाना सुश्चिित करें। भोजन व्यवस्था में लगे सभी लोगों को निर्धारित दर पर मानदेय दिए जाएंगे। बैठक में जिला पंचायत सीईओ  विजय दयाराम के ने भी अधीक्षकों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बैठक में पंडरिया एसडीएम  प्रकाश टंण्डन ने बताया कि पंडरिया अनुविभाग में 30 आश्रम‑छात्रावास संचालित है। नोवेल कोरोना वायरस के रोकथाम और नियंत्रण के लिए सभी विद्यार्थियो को उनके घर भेज दिया गया है। सभी आश्रम‑छात्रावास को क्वारेटाईन सेन्टर बनाया जाएगा। बैठक में पंडरिया जनपद पंचायत सीइओ नवीन भट्„ पीएचई के एसडीओ, सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

418 Views

You cannot copy content of this page