कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र में कोरोना वायरस के एक भी नए मरीज नहीं मिले, संक्रमण को रोकने में कामयाब रही जिला प्रशासन की टीम

कवर्धा, 13 मई 2020। कबीरधाम जिले के सुदूर और दुर्गम पहाड़ियों के उपर स्थित घोषित कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र के पांच गांवों में कोविड‑19 कोराना वायरस के बढ़ते संक्रमण को तेजी से रोकने में जिला प्रशासन की पूरी टीम सफल नजर आ रही है। कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र में आज पूरे दस दिन बाद कोरोना वायरस के एक भी नए प्रकरण सामने नहीं आए है। संक्रमित व्यक्तियों से सीधे संपर्क में रहने वाले लोगों की भी रिपोर्ट निगेटिव आई है। हालांकि इस महामारी वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए कलेक्टर अवनीश कुमार शरण के निर्देश पर कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र और उनके पासपास के अन्य गांवों के 282 लोगों की रिपोर्ट जांच के लिए भेजी गई थी। इन सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। एम्स रायपुर में उपचार के बाद जिले के कोविड‑19 के संक्रमित 6 व्यक्ति भी स्वस्थ्य हो गए है। पांच लोग वापस आ गए है। आज एक और स्वस्थ्य व्यक्ति को एम्स से छुट्टी दी जाएगी।

कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने कोविड‑19 के रोकथाम और नियंत्रण के लिए बनाई गई स्वास्थ्य विभाग की विशेष टीम जिला सर्विलेंस में शामिल सभी लोगों को बेहतर कार्य करने के लिए बधाई दी है। इसी तरह बोड़ला अनुविभाग के एसडीएम श्री विनय सोनी और उनकी टीम में शामिल जनपद सीईओ, तहसीलदार नायाब तहसलीदार,पटवारी गांव के सरंपच, सचिव, रोजगार सहायक, वाहन चालक से लेकर रसाईयों सहित 24 घंटे काम रहे सभी लोगों का उत्साहवर्धन करते हुए बधाई दी है। उन्होने यह भी कहा कि यह शुरूआत है, आने वाले विकट परिस्थितियों के लिए भी पुरी सजगता के साथ चैकन्ना रहना होगा। निरीक्षण के दौरान मुख्यचिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ एसके तिवारी, बोडला एसडीएम विनय सोनी, जनपद सीईओ

जेआर भगत, डीपीएम श्रीमती नीलू घृतलहरे, जिला सर्विलेंस अधिकारी डाॅ गौरव परिहार,डाॅ बागडे सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि इसी वनांचल क्षेत्र के ग्राम समनापुर और रेंगाखारकला के राहत शिविर में ठहरे छः प्रवासी श्रमिकों में कोविड‑19 कोरोना वायरस के संक्रमित होने की रिपोर्ट आई थी। सभी श्रमिकों का उपचार के लिए रायपुर एम्स रिफर किया गया था। इसमें से पांच व्यक्ति स्वस्थ्य होकर कवर्धा वापस आ गए है। आज एक व्यक्ति भी स्वस्थ्य होकर वापस लौटेंगे। कोविड‑19 की पाॅजेटिव रिपोर्ट आने के बाद इस वनांचल के पांच गांवों को कंटेन्मेंट जोन घोषित किया गया है। कंटेन्मेंट क्षेत्र गांवों में रेंगाखार कला, चमारी, सुतिया वन गांव, तितरी, और समनापुर शामिल है।

कलेक्टर ने कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र के सभी निवासियो की सजगता और जागरूकता की तारीफ की

कलेक्टर शरण और जिला पंचायत सीईओ विजय दयाराम के ने इसके अलावा कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र में शामिल सभी ग्राम पंचायत,गांव और वनग्रांम के निवासियों की जागरूकता और सजकता की भी तारीफ की है। कलेक्टर ने कहा कि कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र में घोषित करने के बाद इस वायरस के बढ़त संक्रमण का अंदेशा था। वही जिला प्रशासन की पुरी टीम द्वारा इस बढ़ते संक्रमण को रोक पाने का भरोसा भी था। इस भरोसे को सफल बनाने में कंटेन्टमेंट जोन क्षेत्र में शामिल सभी गांवों के निवासियों की सजगता का बेहतर परिणाम है, जिसकी वजह से आज यह क्षेत्र अब सामान्य होने जा रहा है।

कंटेन्मेंट जोन क्षेत्र 282 व्यक्तियों की रिपोर्ट आई निगेविट

जिला सर्विलेंसे अधिकारी डाॅ गौरव परिहार ने बताया कि कंटेन्मेंट जोन क्षेत्र और आसपास के गांव से कुल 288 व्यक्तियों का कोविड‑19 की जांच के लिए भेजा गया था, जिसमें से 6 लोग संक्रमित मिले थे। इसके अलावा 282 व्यक्तियों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।
डाॅ परिहार ने बताया कि बालक आश्रम समनापुर में व्हीटीएम सेम्पल कलेक्शन 5 व्यक्तियों का लिया गया है। इसी प्रकार बालक छात्रावास समनापुर में 9 व्यक्ति जिसमें 3 का रिपोर्ट पाॅजेटिव आई थी। कन्या आश्रम रेंगाखार कला में 9 में 3 का रिपोर्ट. पाजेटिव आई थी। इसी प्रकार भिंभौरी में 4, पंडरिया में 4, उसरवाही में 3, भेलवाटोला में 3, बालक आश्रम समनापुर में 8, माध्यमिक शाला रेंगाखारकला में 10, कन्या आश्रम रेंगाखार कला में 21, चमारी में 10 तितरी में 10, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रेंगाखार कला में 26, चोरबाहरा में 14, चमारी में 26, सुतिया में 12, तितरी में 15, समनापुर में 35, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रेंगाखार कला में 27, प्री. मैट्रिक बालक आश्रम छात्रावास रेंगाखारकला में 11, कन्या आश्रम रेंगाखार कला में 5 व्यक्ति और बालक आश्रम समनापुर में 2 व्यक्ति कुल 282 लोगों का व्हीटीएम सेम्पल कलेक्शन लिया गया है, सभी की रिपोर्ट निगेविट आई है।

295 Views

You cannot copy content of this page