अम्फान से बंगाल में तबाही, पीएम मोदी ने किया 1000 करोड़ रुपए की मदद का ऐलान

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफान अम्फान की वजह से भीषण तबाही मची है। यहां पिछले 283 साल में आया ये सबसे भयावह तूफान है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अम्फान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने पहुंचे हैं। प्रधानमंत्री मोदी कोलकाता पहुंच गए हैं, जहां ममता बनर्जी ने उनका स्वागत किया।

दोनों नेताओं ने प्रभावित इलाके का हवाई सर्वेक्षण किया। हवाई सर्वे के बाद पीएम मोदी ने कहा कि जब देश में कोरोना वायरस का संकट है, तब पूर्वी क्षेत्र में तूफान ने प्रभावित किया। पीएम मोदी ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार दोनों ने इस तूफान को लेकर तैयारी की थी, लेकिन इसके बावजूद 80 लोगों की जान हम नहीं बचा पाए हैं।

इस तूफान की वजह से काफी संपत्ति का नुकसान हुआ है, जिसमें घर उजड़े हैं और इन्फ्रास्ट्रक्चर को बड़ा नुकसान हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुरूआती तौर पर 1000 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया है, इसके अलावा मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान किया गया है।

पीएण मोदी ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, राज्य के गवर्नर जगदीप धनकड़ और कई केंद्रीय मंत्री हेलिकॉप्टर में बैठकर हवाई सर्वे के लिए रवाना हो गए हैं. पीएम मोदी अभी नॉर्थ और साउथ 24 परगना का हवाई सर्वेक्षण करेंगे, उसके बाद बसीरहाट जाएंगे जहां पर बैठक होनी है।

बता दें कि शुक्रवार सुबह तक पश्चिम बंगाल में अम्फान तूफान के कारण 80 लोगों की मौत हो गई है. राज्य को करीब एक लाख करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान है। कोरोना वायरस संकट के बीच पीएम मोदी 83 दिनों के बाद पहली बार दिल्ली से बाहर किसी दौरे पर हैं. गौरतलब है कि देश में कोरोना संक्रमण के फैलने की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन 25 मार्च को लागू किया गया था।

पीएम मोदी ने उसके बाद कई कार्यक्रमों में शिरकत तो की लेकिन दिल्ली से बाहर नहीं गए. लॉकडाउन के कुछ दिन पहले से ही पीएम मोदी ने दिल्ली से बाहर का कोई दौरा नहीं किया था. ऐसे में उनका यह दौरा पूरे 83 दिन बाद होने जा रहा है।

293 Views

You cannot copy content of this page