वन प्रबंधन समिति के सदस्यों और ग्रामीणों को मिली बाड़ी विकास के लिए सब्जी बीज और फलदार पौधे

कवर्धा, 11 जुलाई 2020। छत्तीसगढ़ सरकार की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने वाली नरवा गरुवा घुरुवा बारी योजना के तहत कबीरधाम में वन विभाग द्वारा 11 जुलाई को संयुक्त वन प्रबंधन समिति अंतर्गत आने वाले सदस्य और परिवारों को फलों और सब्जियां के बीज उनके स्वयं की बाड़ी में लगाने के लिए निशुल्क वितरित किए गए । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशानुसार तथा वन मंत्री मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार कवर्धा वन मंडल में बाड़ी योजना के अंतर्गत समस्त परिक्षेत्रों के अंतर्गत आने वाली संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्य व परिवारों को 3 हजार किलोग्राम फलों के बीज तथा 300 किलोग्राम सब्जियों के बीज का वितरित किया गया।
वन मण्डलाधिकारी दिलराज प्रभाकर ने बताया कि जिले में
हर्रा, बहेड़ा, आंवला, नीम, महुआ, हल्दू, कुल्लू , करंज, धावड़ा, साल, सागौन, शिशु, बबूल, बांस, बेर, कटहल एवं अन्य प्रजातियों के बीजों से सीडबॉल का निर्माण वन विभाग के द्वारा किया गया था। चयनित वन क्षेत्रों में समस्त परिक्षेत्रों अंतर्गत 100000 सीडबॉल बॉल का जुताई तथा क्षेत्रीय साफ सफाई कर डिबलिंग कर फैलाव का कार्य किया गया। आम, बेर, बेल, सीताफल, कटहल, जामुन, लौकी, बरबट्टी, भिंडी, करौंदा, बैंगन आदि फल और सब्जियों के बीजों का वितरण कवर्धा वन मंडल की 293 संयुक्त वन प्रबंधन समितियां के सदस्यों को गणमान्य नागरिकों तथा जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में किया गया। बाड़ी योजना में वितरित फल और सब्जी के कीटनाशी और फफूंदीनाशी उपचारित बीजों को पाकर जिला कबीरधाम के ग्रामीण अंचल में महिलाओं और बुजुर्गों में खासा उत्साह देखा गया। शासन की इस योजना की जन साधारण ने सराहना की। शासन की यह योजना वनांचल में जन सामान्य को मितव्यी, आत्मनिर्भर बनाने तथा फल व सब्जियों का खाने में उपयोग करने से पोषक तत्वों की आपूर्ति करने में महती भूमिका निभाएगी।

289 Views

You cannot copy content of this page