मुख्यमंत्री हाट‑बाजार क्लिनिक योजना बना ग्रामीणों के लिए वरदान

 

सरकार ह स्वास्थ्य सुविधा ल हमर घर दुआरी म पहुचा दे हे, अब सर्दी-बुखार, दरद, मौसमी बीमारी, कोनो परकार के खून जांच अउ बीपी-सुगर के दवई बर हमन ला भटके ल नई पड़य। यह उन अधिकांश ग्रामीणों का बयान हैं, जिनसे मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना के सम्बंध में जानकारी ली गई। दरअसल छतीसगढ़ सरकार द्वारा दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्र

कवर्धा। सरकार ह स्वास्थ्य सुविधा ल हमर घर दुआरी म पहुचा दे हे, अब सर्दी-बुखार, दरद, मौसमी बीमारी, कोनो परकार के खून जांच अउ बीपी-सुगर के दवई बर हमन ला भटके ल नई पड़य। यह उन अधिकांश ग्रामीणों का बयान हैं, जिनसे मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना के सम्बंध में जानकारी ली गई।

दरअसल छतीसगढ़ सरकार द्वारा दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं को सुलभ तरीके से पहुचाने के लिए अक्टूबर 2019 से मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना का शुभारंभ किया गया। बीच में कोविड काल में इसकी रफ्तार में रुकावट आई, लेकिन अब पुनः यह लोगों की सेवा में अनवरत जारी है। कबीरधाम जिले की अगर बात करें तो यहां कुल 84 हाट‑बाजार संचालित किया जाना है, मार्च 2022 के पहले तक इनकी संख्या 25 थी, जिसे मार्च 22 से बढ़ाकर अब 60 कर दी गई है। सीएमएचओ ने बताया कि इसे शत‑प्रतिशत करने की तैयारी है। उन्होंने बताया कि जिले में अक्टूबर 19 से अब तक लगभग 85 हजार 9 सौ 89 लोगों ने हाट बाजार में जांच, उपचार व परामर्श की सेवा का लाभ लिया है। उन्होंने बताया कि प्रति हाट बाजार क्लिनिक की जिले में औसत ओ पी डी लगभग 89 है और मार्च 2022 से अब तक महज ढाई माह में ही 32 हजार 6 सौ 37 लोगों को सेवाएं दी जा चुकी है।

सीएमएचओ ने बताया कि वर्तमान समय में जिले में संयुक्त स्वास्थ्य टीम कार्य कर रही है। टीम में मेडिकल आफिसर, ग्रामीण चिकित्सा सहायक, स्टाफ नर्स, एमएलटी, ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजकों, एएनएम के साथ‑साथ आयुर्वेद चिकित्सकों की भी ड्यूटी लगाई गई है, ताकि जनता को अधिक से अधिक लाभ मिल सके। उन्होंने बताया कि इस क्लिनिक में आवश्यक रक्त परीक्षण, जांच के साथ तमाम बीमारियों का प्राथमिक उपचार व परामर्श की सेवाएं ग्रामीणों को दी जा रही है। उधा चिकित्सा वाले प्रकरणों की पर्याप्त काउंसलिंग करके सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों अथवा जिला अस्पताल रेफर किया जा रहा है, जिससे मरीज को संपूर्ण उपचार मिल सके।

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा उनकी टीम लगातार कर रहे हाट बाजारों का औचक निरीक्षण

जिला कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा, एसपी डा. लाल उमेद सिंह, जिला पंचायत सीई ओ संदीप अग्रवाल, पंडरिया एसडीएम दिले राम डाहीरे की संयुक्त टीम द्वारा गत दिनों खैरझिटी के हाट बाजर का दौरा करके स्टाफ की सेवाओं, दवाओं की उपलब्धता, ओपीडी की संख्या आदि की जानकारी ली गई। इसी तरह हाल ही में पनेका हाट बाजार पहुंचकर कलेक्टर शर्मा व कवर्धा एसडीएम विनय कुमार सोनी ने तमाम जानकारियां ली। इस दौरान स्टाफ को अपने तय गणवेश में रहने, हाट बाजार वाहन में बैनर, फ्लैक्स अनिवार्य लगाने, प्रत्येक हाट बाजार में टीम का स्थान तय रखने व सही तरह से व्यवहार रखते हुए मरीजों को सेवाएं देने का सख्त निर्देश भी कलेक्टर ने दिया है। उल्लेखनीय है कि टीम द्वारा आम ग्रामीणों व बाजार में आने वाले लोगों से सम्पर्क करके स्टाफ की उपस्थिति व व्यवहारों की जानकारी भी ली जा रही है। शिकायत मिलने पर जांच करवाकर त्वरित कार्रवाइयां भी की जा रही हैं।

स्टेट की टीम ने माना कबीरधाम में कार्य बेहतर

संचालक महामारी नियंत्रण छत्तीसगढ़ शासन डा. सुभाष मिश्रा व जॉइन डायरेक्टर डा. प्रशांत श्रीवास्तव गत दिनों जिले के दौरा पर आए। उन्होंने तमाम स्वास्थ्य सेवाओं और राष्ट्रीय कार्यक्रमों के साथ‑साथ मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना के दशा-दिशा की भी समीक्षा की। समीक्षा में

जिले के कार्यों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कबीरधाम जिले में हाट बाजार सेवाओं की स्थिति राज्य के तमाम जिलों से बेहतर है। उन्होंने यहां की टीम को इसी तरह बेहतर प्रदर्शन करते रहने के लिए शुभकामनाएं भी दी है।

 

21 Views

You cannot copy content of this page