मुख्यमंत्री की सहृदयता : दृष्टि बाधित छात्रा बोली पढ़ना चाहती हूं , पर पैसे नहीं , मुख्यमंत्री बोले बेटा स्मार्ट फोन और टेप रिकॉर्डर खरीदो मैं तत्काल डेढ़ लाख रुपये स्वीकृत करता हूं

 

मुख्यमंत्री की सहृदयता : दृष्टि बाधित छात्रा बोली पढ़ना चाहती हूं , पर पैसे नहीं , मुख्यमंत्री बोले बेटा स्मार्ट फोन और टेप रिकॉर्डर खरीदो मैं तत्काल डेढ़ लाख रुपये स्वीकृत करता हूं

सभा में ही आवेदन लिया और तत्काल स्वीकृत कर दिए डेढ़ लाख रुपये

मुख्यमंत्री ने दोनों बच्चों के सर पर हाथ रखकर दिया आशीर्वाद

रायपुर। सर मेरा नाम भानुप्रिया आचार्य है । मैं दृष्टि बाधित हूं मैं 10वीं कक्षा में पढ़ती हूं लेकिन दृष्टिहीन होने की वजह से पढ़ नहीं पाती हूं और मेरे पिता की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है । इतना सुनते ही मुख्यमंत्री दृवित हो गए । उन्होंने कहा कि बेटा स्मार्टफोन और टेप रिकॉर्डर खरीदो, पैसे मैं देता हूं । मुख्यमंत्री ने दृष्टि हीन भाई — बहन का आवेदन लिया और डेढ़ लाख रुपये स्वीकृत करते आवेदन पर दस्तखत कर दिए । मुख्यमंत्री ने कहा कल आपके घर राशन भी पहुँचा दिया जाएगा । कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री ने दोनों भाई बहन के सर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया और कहा चिंता मत करो अच्छे से पढ़ाई करना ।

बकावंड में आयोजित भेंट मुलाकात कार्यक्रम में भानुप्रिया के भाई दृष्टि बाधित थनेन्द्र आचार्य ने भी आर्थिक सहायता की मांग की और कहा कि संगीत सीखना चाहता हूं । इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आपके विद्यालय में संगीत शिक्षक की व्यवस्था की जाएगी ।

 

24 Views

You cannot copy content of this page